Firewall क्या है ? कंप्यूटर फ़ायरवॉल उसके प्रकार जानकारी हिंदी में

Firewall क्या है? आज इस article में Firewall क्या है?. हमारे security के लिए Firewall कितनी जरुरी है. आज इस सबके बारे में बिस्तार से चर्चा करेंगे. आज की digital दुनिआ में Internet के बिना एक पल भी जीना बहुत मुश्किल है. आज ज्यादातर लोग बहुत ही जोर सोर से internet का ब्यबहार कर रहे हैं.

Internet के द्वारे बहुत से काम बहुत ही आसानी से हो जाता है. इसी लिए आज काल internet का उपयोग हर जगह पर हो रही है. Internet द्वारा काम जितना आसान हो जाता है. उसके साथ साथ हमारे Security की भी चिंता बहुत बड़ जाती है.इस Internet के दुनिआं में ऐसे भी लोग होते है। जो दूसरे के Information चुराने की फिराग में रहते हैं. जो भी चीज़ Computer,Laptop,Tablet Internet के साथ जुडाता है।

उस चीज़ों के लिए security की चिंता बड़ जाती है. क्यूंकि हमारे information याहाँ स्टोर हो के रहता है. ये सब information को सुरखित रखने के लिए एक मजबूत चीज़ होनी चाहिये जो डट कर हमारा information को सुरखित रक् सके। और ऐसे में ही Firewall का वज़ूद में आता है.Computer का भी एक सुरक्षा की जरुरत होती है. जो Virus और Malware से सुरक्षा दे सके.

Firewall क्या है

Firewall क्या है? Computer Firewall क्या होता है?

Firewall एक ब्यबस्था है। जो Computer और उसके networks को सुरक्षा देता है. जो Malware ,Virus ,डाटा चुराने बाले attackers से हरबख़्त चटान के तरह खड़ा हो के आप के Computer को सुरक्षा प्रदान कर ता है. Firewall एक Network Security System जो Internet से incoming और outgoing traffic को monitor करता रेहता है ।

Firewall और उसके प्रकार क्या हैं?

Firewall दो प्रकार के है।

  1. Hardware Firewall
  2. Software Firewall

हार्डवेयर फ़ायरवॉल Hardware Firewall

एक physical device है। जो computer पर traffic को filter करता है. और computer को सुरक्षा
प्रदान करती है. आने बाले unauthorised access को रोक देती है. ताकि आप के computer Malware ,attackers ,virus से बचा जा सके. Hardware Firewall जो internet router के साथ संजोग किया जाता है। जो unauthorised access को यहीं रोक देती है.

ताकि आप का computer की सुरक्षा घेरे में रहेसके. बड़े बड़े कंपनी और छोटे छोटे business man जहां बहुत सारे computer एक ही computer networks से internet router से जुड़े रेहतें है . यहीं पर Hardware Firewall को enable रखना बहुत ही जरुरी है. अगर एक computer वायरस,malware के चपेट में आगेया तो आस पासके सारे computer को साथ में लपेट लेगा। इसीलिए ऐसी जगह पर Hardware Firewall enable रखना बहित ही जरुरी है.

जब computer से internet के access किया जाता है. तब computer का डाटा access किया जारहा server पे प्रेरित करता है. Firewall उस डाटा के साथ आप का network id जोड़ के भेजती है. जब access किया जारहा server से आप केcomputer के data आरहाहोता उस बक्त firewall verify करता है।

उस डाटा के साथ आप का network id है की नहीं। Network id है तो परमिट कर ता है. अगर नहीं तो Firewall उस डाटा को आप के computer के अंदर आने नहीं देती. उसे बहार ही रोक देती है.

सॉफ्टवेर फ़ायरवॉल Software Firewall

आज की दुनियां में सुरक्षा बहुत बड़ी चीज़ है. पहले सुरक्षा उसके बाद सबकुछ. Windows (Operating System ) के
developers लोगो को ये पता है सुरक्षा किया चीज़ है. इसी लिए नेये generations के Windows OS में in build आता है. user को सुरक्षा में कोई ढीलाई न हो इसी लिए पेहेले से ही securities features को enable रहता हैं. ताकि computer पूरी तरह सुरक्षीत रहेसके।

आज कल बहुत सारे antivirus software बाज़ार में मिल जाता है. Antivirus software का काम एक ही है firewall. Computer को सुरक्षित रखना. जब भी आप ने computer में नेये games ,software install कर ते हैं। तो computer ने install के लिए permission मांगता है.

अगर आप ने परमिशन देतें है तब जाके इनस्टॉल होता है. आज की समये पे Software Firewall computer में install करना बहुत ही जरुरी है. Internet के दुनिआं में attackers ,virus ,malicious site है. जो हर बक्त आप के डाटा चुराने की फिराक में रेहतें है.

Firewall चालू होने पर क्या होता है?

Firewall एक antivirus programme के रूप में आप के computer को सुरक्षा प्रदान करता है. Network हर आते जाते data packet को verify करती है. उसके बाद अनुमति देता है. और data match नहीं हुआ तो येहिं पर block कर देती है.Firewall एक networks में malware को फेलनेसे रोकती है. इसके साथ साथ आप के computers को attackers घुसपैठिये के सामने चटान के तरह खड़ा हो के आप के computer को सुरक्षा प्रदान करता है.

Firewall बंद होने पर क्या होता है?

Firewall बंद होने पर network ने बिना रोक थोक के सभी प्रबेश और बहार निकलने की अनुमति देता है. Firewall बंद रहता तो आप के computer virus से ग्रसित हो जायेगा। जो आप के डाटा attackers के हात में होगा। mis-utilised करेंगे। जिसके द्वारा आप का भरी लुकसान होगा. और आप ने cyber crime में भी पड सकते हैं . जो आप ने कभी किया नहीं.

आशा करता हूँ Firewall  क्या  है ? कैसे काम करता है. Firewall और उसके प्रकार क्या हैं? ये सब इसी article में समझने के ये छोटा सा प्रयास किया गया है. जो आप लोगो को पसंद आया होगा. आप के मन में इस आर्टिकल बारे में कुछ भीdoubts है या फिर article में और सुधर किया जासकता है. तो कृपया कर के नीचे comment करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here