How to Invest in Share Market in Hindi | शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें |

How to Invest in Share Market in Hindi दुनिया में पैसे कमाने के बहुत सारे रास्ते है | लोग बहुत प्रकार के रास्ते को अपनाते है और पैसे कमाते है |शेयर मार्किट एक एसे जगह जाहाँ लोग पैसा कमाने के लिए आते है | शेयर मार्किट में कुछ लोग शेयर के ऊपर दाव लगा कर इन्वेस्ट कर के पैसे कमाते है | आखीर येह sheyar market है क्या |

शेयर बाजार क्या होता है? और किसे share मार्किट से पैसे कमाया जा सकता है |Share market के बारे में आप लोगों ने तो सूना ही होगा | हम में से एसे बहुत सारे लोगों को पता नहीं है, share market में क्या होता है |
शेयर बाजार की जानकारी बहुत कम लोगों को पता है | घर बैठ कर online शेअर बाजार से पैसे कमाया जा सकता है | Sher bazar online ट्रेडिंग के लिए आप को कंप्यूटर ,लैपटॉप और मोबाइल के द्वारा किया जाता है |

शेयर बाजार में निवेश कैसे करें,share market में खता कैसे खोला जाता है | How to invest money in share market in hindi? आज हम इस लेख के द्वारा शेयर बाजार की जानकारी देने की एक छोटा सा प्रयास किया गेया है |

शेयर मार्किट क्या है – What is Share Market in Hindi

शेयर मार्किट में किसी भी कंपनी के stocks जो India के NSE (National Stock Exchange ),BSE (Bombay Stock Exchange) में listed होता है | कंपनी के स्टॉक को equities भी कहा जाता है,स्टॉक कंपनी का स्वामित्व का प्रतिनिधित्व करता है |

शेयर मार्किट एसी जगह है जाहाँ पर निवेशक कंपनी के स्टॉक को खरीद और बेच सकते है | शेयर मार्किट (Stock Market ) में इक्विटी के एलाबा बांड ,Mutual फण्ड और Derivative की कारोबार होता है |

What is Share market in Hindi

शेयर मार्किट में बड़ी रिटर्न की उम्मीद के साथ घरेलु निवेशक और बीदेशी निवेशक (FII) stock Market में निवेश करते है | जब एक investor कोई भी कंपनी के शेयर खरीदता है तो निवेशक उस कंपनी एक हीसेदार बनजाता है | जब कंपनी मुनाफ़ा करता है तो कंपनी के स्टॉक price मुनाफे के हिसाब से बड जाता है और कंपनी के घाटा होता है तो घाटे के हिसाब से स्टॉक के price घट जाता है |

What is Share in Hindi

एक शेयर किसी भी कंपनी का संपत्ति में ownership का अंश होता है | शेयर अनिवार्य रूप से एक कंपनी के वैल्यू का एक विनिमेय का अंश होता है | यह अंश अलग अलग बाज़ार कारकों के आधार पर ऊपर या फीर निचे रहे सकता है | कंपनी बाज़ार से आपनी पूंजी जुटाने के लिए शेयरों में विभाजित करते हैं |

शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें – How to get started in Share Market

शेयर मार्केट में निवेश करने से पहेले आप को शेयर बाजार की जानकारी होना जरुरी है | आप अगर एक नए निवेशक है तो आप को basic share market के बारे जानना जरुरी है | निवेश करने से पहेले आप को Business newspaper,Business News TV चेन्नल को देख कर शेअर बाजार के बारे में जान पायेंगे | जब आप TV ,newspaper देख कर experience हो जायेंगे तब आप शेअर बाजार में निवेश करेंगे तो आप को फायादा मिल सकता है |

शेअर बाजार बहुत ही रिस्क से भरी हुई है | आप के आर्थीक स्तीथी ठीक है तो शेअर बाजार में निवेश करना चाहिए | शेअर बाजार में बहुत ही उतार चढ़ाव रेहेता है | आप जीतनी लुकसान सहे सकते हैं उतीनी ही पैसे शेअर बाजार में निवेश
करना चाहिए |

Share Market में आप का knowledge और experience बढने के साथ साथ आप के निवेश धीरे धीरे बढ़ा सकते है | Share Market uncertainty का एक खेल है | नए निवेशक हमेशा भूल करते है | एक साथ आपनी सारी पूंजी को निवेश करदेते है | जब equities खरीद ने की गोल्डन चांस मिलता है तो निवेश के हात खाली रेहेता है | पहेले से ही सारी पूंजी share में एक साथ निवेश कर देते है |

Experience investor, पुराने निवेशक,शेअर बाजार में cash in hand को जादा believe करते है | शेअर बाजार हमेशा सुयोग देता रेहेता है | धर्य के साथ जो निवेशक share मार्किट में निवेश करता है उसे आछा खासा रिटर्न मिलता है |

शेयर बाजार में निवेश कैसे करें?

Searbazar में निवेश करने के लिए आप को सब से पहेले demat account खोलना पडेगा | Demat accounts खोलने के बाद आप NSE ,BSE में listed कोई भी शेयर में निवेश कर सकते है | आखीर ये dp account क्या है | चालिए आज हम इस लेख के द्वारा dp account कैसे खोला जाता है ये demat account opening खता क्या है इस के द्वारा हम क्या कर सकते है | येह सब चर्चा इस लेख में बिस्तार रूप से करेंगे |

डीमैट खाता कैसे खोलें – How to open Demat Account

इंडिया में demat account NSDL और CDSL जैसे मध्यस्थों / डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट / Stocks Brokers के माध्यम से DP(Depository Participant) द्वारा दिया जाता है | Demat account खाता खोलने के लिए आप को एक फॉर्म को भरना पड़ता है |

फॉर्म में आपनी सभी जानकारी को भरना पड़ता है | Demat accounts के लिए कुछ प्रूफ ऑफ आइडेंटिटी और प्रूफ ऑफ एड्रेस डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ती है | DP अकाउंट के लिए PAN Card ,identity proof ,residence प्रूफ ,आप के financial balance sheets की फोटो copy और photograph के सहीत demat account opening फॉर्म को भरने के बाद आप को आबेदन करना पड़ता है |

आबेदक के द्वारा दिए गये जानकारी का सत्यापन हो जाने के बाद आबेदन कारी के DP अकाउंट खोल जाता है | आज कल इंडिया में online demat account बहुत आसानी से आप खोल सकते है | इंडिया में बहुत सारे stockbrokers महाजुद्द है | आज कल saving bank अकाउंट में भी आप आसानी से DP अकाउंट खोल के शेअर बाजार में निवेश कर सकते है |

Demat account खोल जाने के बाद DP अकाउंट के संबधीत जानकारी आबेदन कारी के residence address को पोस्टल के जरिए और e-मेल के जरिए पहंच जाता है | आप के संबंधीत stockbrokers के website में जा कर demat account login पेज में username और password दे कर लॉग इन कर सकते है |

India में बहुत सारे stockbrokers कंपनी महजुद है उन में से कुछ लिस्ट हम आपके लिए निचे दिए है |

ICICI-Direct
HDFC securities
Axisbank
UBI
SBI
Upstox
Kotaksecurities
Angelbroking
MotilalOswal
Zerodhaa
Indiainfoline
Sharekhan
5paisa
RelianceMoney

एसे बहुत सारे stockbrokers इंडिया में महजुद है | आप आपनी सुबिधा और सहुलियत के हिसाब से किसी भी stockbrokers में demat account खोल सकते है | Demat account खोल जाने के बाद आप आसानी से online share bazar में नेवेश कर सकते है |

Nifty क्या है ?

Nifty (National Stock Exchange ) index है | Nifty 50 में टॉप 50 कंपनी के मार्किट capitalization आधार पर रखा जाता है | निवेशक निफ़्टी शेयर प्राइस को देख कर आछी शेयर में निवेश करना चाहिए | जब से इंडिया में online शेयर मार्किट के कारोबार हुया है तब से निफ्टी का महत्वा बहुत बड गेया है | बहुत सारे investor ट्रेडर निफ्टी में शेयर ट्रेडिंग करते है और शेयर में निवेश करते है |

निफ्टी 50 ,निफ्टी नेक्स्ट 50,निफ्टी midcap 50 ,Bank Nifty एसे सेगमेंट में कारूबार होती है | निफ्टी के derivative बहुत मसूर है | बहुत सारे ट्रेडर निफ्टी derivative में ट्रेड करते है | Nifty index Futures निफ्टी derivative में बहुत popular है बहुत सारे ट्रेडर nifty index futures में ट्रेड करते है |

Equity Derivates में stocks futures का भी कारोबार होती है | निफ्टी Derivatives में निफ्टी 50 का options ,निफ्टी बैंक options ,stocks आप्शन का कारोबार होती है | NSE के official वेबसाइट पर शेयर बाजार live के द्वारा आप NSE में रोज होने बाले कारोबार stocks के price को देख सकते है |

Sensex क्या है ?

Bombay Stock Exchange यानी की Sensex देश और दुनीया की सबसे पुराना securities exchange में से एक है | Bombay स्टॉक exchange को लोग BSE के नाम से जाना जाता है | S&P BSE SENSEX में कंपनी के कैपिटलाइजेशन के आधार पर रखा जाता है | BSE में बहुत सारे index रेहेता है | कंपनी के कैपिटलाइजेशन और सेक्टर के हिसाब से listed रेहेता है | Bombay Stock Exchange में भी Derivatives trading होता है |

How to earn money from share market in Hindi

आप अगर शेयर बाजार से पैसे कमाना चाहाते तो आप को बहुत सारे share market rules की बारे जानकारी रख कर उसके ऊपर अमल करना चाहिए |

  • आपनी बजट को निर्धारित करें |
  • दीर्घकालिक निवेश पर ध्यान दें |
  • स्टॉक पोर्टफोलियो तेयार करे |
  • खुद को शिक्षित करें |
  • Support Level क्या है ?
  • प्रतिरोध स्तर (Resistance Level)|
  • Stock Bottom Line जाने |
  • Piratical Decision ले |

यहाँ पर आप के लिए कुछ पॉइंट्स बताये गये हैं और भी पॉइंट्स है लेकिन इन बताये गये पॉइंट्स पर आप अमल करेंगे तो शेयर बाजार से पैसे कमा सकते हैं |

How to Invest in Share Market in Hindi

शेअर बाजार में निवेश करने से पहेले आप को कोई पहेलु को ध्यान देना जरुरी है | शेअर बाजार एक समुन्दर है बड़े बड़े मछली छोटे छोटे मछली को बहुत आसानी से निगल जाते है | शेअर बाजार को आज तक कोई भी 100 % guarantee के साथ सही prediction कर नहीं सकता | शेअर बाजार prediction के आधार पर चलता है |

How to Invest in Share Market in Hindi

Share market rules in Hindi

एक ट्रेडर या फीर एक निवेशक हो शेयर बाजार के नियम जानना बहुत ही जरुरी है | शेयर बाजार में अन्य investment के तुलना से ज्यादा return आते हैं | शेयर बाजार से return ज्यादा आता है लेकिन शेयर बाजार में इन्वेस्ट या फीर इंट्राडे ट्रेडिंग में बहुत ज्यादा रिस्क रेहेता है |

शेयर बाजार में कदम रखने से पहले आप को शेयर बाजार के कुछ नियम को जरुर पालन करना चाहिए | आप शेयर बाजार के नियम पालन करने से आप के रिस्क बहुत कम हो जाता है और return बहुत ज्यादा बड हो सकता है |

आपनी बजट को निर्धारित करें

शेयर मार्केट में शुरुआत कैसे करें – निवेशक आपनी surplus money को ही शेअर बाजार निवेश करना चाहिए | शेअर बाजार uncertain मार्किट है यह daily fluctuations ऊपर नीचे हो कर चलता है |

अक्सर देखा जाता है नए निवेशक हमेसा आपनी पुरी पूंजी को शेअर बाजार में नीबेश कर देते है | येह सही बात नहीं है |
शेअर बाजार में निवेश करने के लिए आपनी एक budget के भीतर होना जरुरी है | निवेशक Loss को जितेना सहसके उतना में ही आपनी बजट रखना चाहिए चाहे शेयर मार्किट ऊपर जाए या फीर निचे जाए आपनी बजट के भीतर ही निवेश करना जरुरी है |

दीर्घकालिक निवेश पर ध्यान दें

शेयर मार्किट के बारे में लोग कहेते है शेअर बाजार से बहुत आसानी से पैसे कमाया जाता है | शेयर मार्किट में कुछ ही समय पर बहुत सारे पैसे कमाया जाता है | येह गलत बात है हाँ कभी कभार एक दो बार हो जाता है| हर बार कुछ ही मिनटों में लाखों कमाना येह संभव नहीं होता |

निवेशक को शेयर मार्किट से पैसे कमाना चाहाता है तो उसे दीर्घकालिक निवेश पर ध्यान देना जरुरी है | share मार्किट ऊपर निचे  हो कर चलता रेहेता है | इस्सलिये नए निवेशक छोटे निवेशक हमेशा दीर्घकालिक निवेश पर ध्यान देना जरुरी है | जब निवेशक दीर्घकालिक निवेश करता है उस daily fluctuations से उसे कोई भी परेसानी की सामना करना नहीं पड़ेगी |

स्टॉक पोर्टफोलियो

आपनी स्टॉक पोर्टफोलियो को diversified स्टॉक को सामील करना चाहिए | आपनी स्टॉक पोर्टफोलियो में निफ्टी 50 के कुछ दीगाज share के साथ कुछ मिड-कैप share और कुछ हाई bita स्टॉक को सामिल करना चाहिए | आपनी स्टॉक पोर्टफोलियो में जादातर निफ्टी 50 के Blue-Chip Stocks होना चाहिए |

Share बाज़ार न्यूज़ के आधार पर चलता है | कोई worst न्यूज़ देश से related है तो share मार्किट धडाक से गीर जाता है | जब worst  न्यूज़ चला जाता और शेअर बाजार recover करता है निफ्टी 50 के Blue-Chip Stocks बहुत जल्द recovery कर लेते है | छोटे share recover करने में बहुत समय लगाते है | इसलिए नए निवेशक छोटे निवेशक हमेशा निफ्टी 50 के दिग्गज share को आपनी स्टॉक पोर्टफोलियो में सामिल करना जरुरी है |

खुद को शिक्षित करें

शेअर बाजार में लम्बे समय तक टीके रहेने के लिए खुद को शेयर बाजार की जानकारी रखना जरुरी है | शेयर बाजार के बारे में जानने के लिए हम इस लेख में share market in hindi कुछ जानकारी देंगे | शेअर बाजार में प्रबेश करने से पहेले खुद को शेअर बाजार की बारीके से जानना जरुरी है |

शेअर बाजार में PE ,EPS ,BPO ,Market Capital ,Bond Debenture ,Derivatives ,Stock Option ,Index Futures ,Stock Futures,Mutual Fund,SIP एसे बहुत सारे है जो एक नए निवेशक को जानकारी रखना जरुरी है | Stock के Resistance Level ,Support Level, येह सब एक नए निवेशक को जानना जरुरी है |

Support Level क्या है ?

Stocks के Support लेवल technical candle chart द्वारा line draw किया जाता है | माना जाता है स्टॉक के support level में बहुत सारे निवेशक एक particular support लेवल पर खरीद किया करते है | माना जाता है इस लेवल पर पहेले से ही बहुत सारे निवेशक स्टॉक को खरीद कर आपने portfolio में रख चुके है |

Support लेवल पर बहुत सारे निवेशक स्टॉक को होल्ड करने के कारण गीरता हुआ स्टॉक इस सपोर्ट लेवल पर थोड़ा
रुक जाता है | Bearish मार्किट में अगर स्टॉक के support level को बार बार हीट करता है तो स्टॉक निचे की सपोर्ट लेवल तक चला जाता है |स्टॉक अगर सपोर्ट लेवल को बार बार hit करेगा और सपोर्ट लेवल के निचे क्लोज होने से | येह technical संकेत देता है स्टॉक आगे चल कर और भी निचे जाएगा |

एसे संकेत मिलने से स्टॉक को सेल कर देना चाहिए | स्टॉक आगे जाकर और भी निचे गिरेगा और दुसुरे सपोर्ट
लेवल तक चला जाएगा | Bearish Market के sentiment अगर सुधर राहा है तो investor को सपोर्ट लेवल पर थोड़ा थोड़ा कर के स्टॉक को खरीदना चाहिए |

प्रतिरोध स्तर (Resistance Level)

अगर share के price Bullish Market में एक particular price को touch के गिर जाता है तो उसे Resistance Level कहा जाता है | उस price पर निवेशक आपनी share को सेल करदेते है | उसके कारण स्टॉक Resistance लेवल को touch कर के निचे चला आता है | Bullish Market में स्टॉक बार बार Resistance लेवल को touch करता है | Resistance लेवल के ऊपर closing देता है तो माना जाता है स्टॉक और भी आगे जा सकता है |

Stock Bottom Line

आज तक कोई भी 100 % guarantee के साथ यह predict कर नहीं सकता स्टॉक के सही Bottom Line कौन सा हो सकता है | Share मार्किट में Stock Bottom Line जानने के लिए आप को स्टॉक के volume को देखना पडेगा | स्टॉक के buying साइड पर volume बड राहा है तो माना जाता है स्टॉक bottom लाइन बनाने की तेयारी कर राहा है |

Technical chart के major indicators के साथ स्टॉक के bottom लाइन draw कर के आप predict कर सकते है | आप के द्वारा किया गेया technical research में जो predict bottom निकल ता है | उस bottom लाइन के आसा पास आप को थोड़ा थोड़ा कर के स्टॉक में निवेश करना चाहिए |

Piratical Decision ले 

शेअर बाजार में अक्सर देखा जाता है नए और छोटे निवेशक हमेशा आपनी emotions को control कर नहीं पाते | Emotions को control करना शेअर बाजार में बहुत ही जरुरी है | आपनी Emotions को control नहीं करने के कारण नए नेवेशक को loss सहेना पड़ता है | इसीलिये हर बक्त नए निवेशक को शेअर बाजार में Realistic desion लेना जरुरी है |

येह भी पढ़े

Best plugins for WordPress नए ब्लॉगर हिंदी में जाने

Telegram kya hai? टेलीग्राम का उपयोग कैसे करे

IRCTC kya hai? IRCTC में नए यूजर ID कैसे बनाए

आशा करता हूँ what is share market in Hindi लेख को आप पसंद करेंगे | शेयर बाजार में निवेश कैसे करें ?यह सब इसी article में समझाने के ये छोटा सा प्रयास किया गया है | आपने अपना बहुमूल्य समय इस लेख को पढ़ने में दिया इसके लिए आप सब का बहुत बहुत धन्यबाद | आप के मन में इस आर्टिकल बारे में कुछ भी doubts है या फिर article में और कुछ सुधर किया जा सकता है|

तो कृपया कर के नीचे comment करे | अगर आप को शेयर मार्केट क्या है? लेख को पसंद आया या फीर हमारे लेख से कुछ सिखने को मिला तो तब कृपया कर के हमारे लेख को आप के फ्रेंड circle social नेटवर्क साईट पर आपने फ्रेंड्स के साथ Facebook ,Twitter ,Pinterest Social media साईट पर share करे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here