Website Blog पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये- हिंदी में जानकारी

Website Blog पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये? हर नया bloggers ये चहाता है आपनी ब्लॉग ,website पर जादा से जादा
कैसे ट्रैफिक बढ़ाया जाये .हर नया bloggers होम पेज कैसे customise किया जाए ,pages कैसे बनाया जाए.उसके बाद niche कौन सा टॉपिक चुना जाए .उस niche के ऊपर पोस्ट कैसे लेखा जाए .

यह सब problem धीरे धीरे solve करते करते आगे website तेयार करता है.एक आछे bloggers होने के लिए बहुत सारे महेनत और धर्य रख ने की जरुरत पड़ती है .तब जाकर एक आछे bloggers बनसकता है.एक bloggers को बहुत दिनों तक इस ब्लॉग लाइन में टिका रेहेता है .Website पर कैसे ट्रैफिक बढाया जाए इसीलिए bloggers ने बहुत सारी महेनत और धर्य रख कर दिन रात काम करतें रहेतें हैं.

इंटरनेट की दुनिया में bloggers जीतनें भी आछे टॉपिक के ऊपर जितने आछी तरह से ब्लॉग किउं ना लिखा जाए जब तक उस ब्लॉग website पर ट्रैफिक नहीं आयेगा उस ब्लॉग website का कोई value नहीं रेहेता .इंटरनेट की दुनिया बहुत बड़ी है.इस बड़ी दुनिया में ब्लॉग website को कैसे लोगों के पास पहँचाया जा सके उसके लिए एक bloggers को बहुत सारे काम करना पड़ता है .तब जाके website ब्लॉग लोगों के पास पहंच पाता है.

हर bloggers हर वक्त चाहाता है .उसके website ब्लॉग पर Organic ट्रैफिक आये .Organic ट्रैफिक इंटरनेट के
दुनिया में बहुत माईने रखता है.जिस website ब्लॉग पर Organic ट्रैफिक जादा आता है .उस ब्लॉग website का
प्रभाव  जादा रेहेता है.बहुत सारे लोगों को Organic ट्रैफिक के बारे में पता नहीं है.लेकिन जो bloggers है
जो लोग ब्लॉग website जुड़े हें उन को मालुम है .

Organic ट्रैफिक क्या है और उसका महत्व इंटरनेट के दुनिया में क्या है. उन लोगों को आछी तरह से पता है.अगर आप को Organic ट्रैफिक क्या होता है? मालूम नहीं तो हम बता देतें है जो Traffic Search Engine से आता है .उसको Organic ट्रैफिक इंटरनेट के दुनिया कहा जाता है.

बहुत सारे bloggers का सपना होता है website ब्लॉग बना कर उसे पैसा कमाया जाये .लेकिन जब ब्लॉग website
पर ट्रैफिक नहीं आये तो उनका confidence थोड़ा कम होजा ता है.इसी लिए हम ने इस लेख पर ब्लॉग website पर
ट्रैफिक कैसे बढ़ाया जाए इसके बारे बिस्तार रूप से इस लेख में चर्चा करेंगे .

Website blog पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये?

जब आप कोई भी domain name choose करतें हैं .उस बक्त से आप का काम सुरु हो जाती है.जब आप कोई भी niche के ऊपर काम करना चाहातें हैं .तो उस niche से related Seo Friendly domain name choose करना चाहिए .जिस के द्वारा आप के domain name search engine optimisation में टॉप में आने के लिए थोड़ा सा सहायता मिलता है .जब आप domain name purchase करतें है .

Website Blog पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

उस बक्त में ध्यान दें आप के domain name छोटा होना चाहिये . बहुत सारे नये bloggers confusion में रहेतें है कौन सा platform website के लिए आछा रेहेता है.हमारे हिसाब अगर कोई थोड़ा सा पैसा affort कर सके तो सुरु से ही word press के साथ जाना चाहिये .किउं की word press में बहुत सारे features options आप को मिल जाता है.जिस के द्वारा आप का बहुत सारे काम आसान हो जाता है.

Web Hosting provider

एक आछा hosting provider कंपनी को चुने .जो आछी तरह से hosting सर्विस प्रोविडे करतें है.आप इंटरनेट में सर्च करे कौन सा वेब hosting कंपनी reasonable पैसा लेकर आछी सर्विस provide करता है.जो आप के aafordable रेंज में हो.हमारे हिसाब से नया bloggers हमेसा share hosting के साथ जाना चाहिए .नए नए website पर ट्रैफिक कम आता है .आप के quality content ,seo ,regular posting ऊपर ट्रैफिक धीरे धीरे बढता रेहेता है.जब आप के साईट पर जादा ट्रैफिक आने लगेगा उस बक्त आप cloud hosting पर upgrade हो जाना चाहिए .

Keyword Research कैसे करे

आप जब भी कोई topic ऊपर लिखे .उस लेख को Seo फ्रेंडली लेख लिखे . Seo friendly लेख लीखेने से
पहेले उस keyword को इंटरनेट पर search करे .उस keyword पर लेख इंटरनेट में पहेले से महाजूद है.अगर है
उस लेख को केई बार पढ़े और उस लेख में कौन सा कमी आप को नजर आये और उस कमी को कैसे आप आछी तरह से
लेख कर लोगों समुख रखा जासकता है .

जो visitor उस लेख को appreciate करे और बार बार आप के website पर आये.keyword research tools provide करने के लिए इंटरनेट में बहुत सारे कंपनी महाजूद है.कोई कंपनी पैसा लेकर सर्विस provide करतें है .और कोई कंपनी free में keyword research tools provide provide करतें है.

Google keyword Planner tools गूगल का एक आछा keyword research tools है.आप कोई भी टॉपिक के ऊपर लीखेने से पहेले इस tools का उपयोग कर के आछे से keyword को research करना चाहिए .Low competition का keyword ,monthly average सर्च volume हाई हो और CPC भी ठीक ठाक होना चाहिए ताकि उस keyword पर पोस्ट को गूगल सर्च engine में रैंक कर सके और Organic ट्रैफिक website ब्लॉग पर आ सके.

  • Find keywords
  • Low competition का keyword का चयन करे
  •  Monthly Average सर्च volume चेक करे
  • C P C चेक करे
  • Analyse Competitiors On keyword

Low competition keyword को choose करना चाहिए ताकि एक नया bloggers को आसानी से आपने पोस्ट को website को सर्च engine में रैंक करवा सके.एक नए bloggers अगर हाई competition keyword को choose करे उसके ऊपर लेख लिखा जाए तो उसको सर्च engine में रेंक में आने के लिए बहुत ही मुस्किल होता है .कयूं की उस keywords पर पहेले से ही दिग्गज bloggers उस keywords पर article लेख चुके हैं .उनका DA (domain authority ) और PA (Page authority ) बहुत हाई रेहेता है .

उनको पछाड़ के एक नया bloggers सर्च engine में रैंक करना बहुत ही मुस्किल है.इसीलिए low competition keyword को choose कर के उसके ऊपर नए bloggers को आर्टिकल लिखना चाहिए .keyword research tools के लिए इंटरनेट के दुनिया में free का भी available है .

और pro बाले यानी की paid वाला keyword research tools सर्विस  प्रोवाइडर भी है.Free बाले keyword research tools में कम आप्शन मिलता है.और इसके लिए आप को तीन चार Keyword Research साईट पर महेनत कर के आप को keyword चयन करना पडेगा .और paid बाला keyword research tools में जादा options मिलता है. आसानी से आप को keywords मिल जाता है.

जो आप ने उस keywords को आछी तरह से Analyse कर सकतें है .जैसे की उस particular keyword पर इंटरनेट पर कौन सा website ब्लॉग गूगल search engine पर कीतेने नंबर पर रैंक कर राहा है.उस keyword पर कौन सा website टॉप में रैंक कर राहा है .उस website ब्लॉग पर कहाँ काहाँ से back -link मिल रहा है. एसे बहुत सारे options आप को paid बाले keyword research tools साईट में आप को मिल जाएगा .

जो एक bloggers को बहुत ही जरुरी है.इसी लिए हमारे हिसाब से paid बाला keyword research tools साईट पर keywords को research करना चाहिए .ताकि आप को उस particular keyword पर आर्टिकल लिखने में आसानी हो होगा . और आप का पोस्ट Google सर्च engine में आछा रैंक कर सके.

Trending Topic पर आर्टिकल लिखे

जो इंटरनेट की दुनिया में जो टॉपिक trend कर राहा है उस टॉपिक पर आर्टिकल लीखेने से आप का पोस्ट गूगल search engine पर जल्दी ही रैंक करेगा .उस trending टॉपिक के ऊपर हर कोई आदमी जानना चाहातें है. उस टॉपिक के ऊपर लोगों का इंटरेस्ट रेहेता है इसीलिए इंटरनेट में यही टॉपिक को सर्च करतें है.Trending टॉपिक पर आर्टिकल लिखने से organic visitor आप के website ब्लॉग में आसकता है .

Trending टॉपिक क्या है

Trending topic क्या है कैसे पता करेंगे .इसके लिए आप को Google Trends को उपयोग कर के आप को पता
चलेगा की Google Trend में कौन सा topic trend कर राहा है.उस टॉपिक के ऊपर keyword research कर के एक आछा सा आर्टिकल लिखने से आप का आर्टिकल गूगल सर्च engine में रैंक करेगा .जिस के द्वारा आप के website पर organic ट्रैफिक आयेगा .

Website के Loading स्पीड

Top Rankling website ब्लॉग का लोडिंग स्पीड बहुत ही फ़ास्ट रेहेता है.visitor क्लिक करते है website ब्लॉग कुछ ही mili second पर website खुल जाता है.और Google सर्च engine भी फ़ास्ट लोडिंग website को हमेसा टॉप में रखता है.इसीलिए Loading speed optimise करना बहुत ही जरुरी है.

Loading time कम करने के तरीके

  • Images को optimise करे
  • Light Weight बाली them का आपनी website ब्लॉग पर उपयोग करे
  • सर्वर के response time को कम करे
  • Redirection का उपयोग कम से उपयोग करे
  • Them responsive और mobile friendly होना चाहिये

Search Engine Optimisation कैसे करे

Search Engine Optimisation के बिना कोई भी website ब्लॉग में ट्रैफिक आना बहुत ही मुस्किल काम है. इसीलिए Search Engine Optimisation करना हर website ब्लॉग के लिए बहुत ही जरुरी है.जितने भी आप का आर्टिकल quality का किउं ना हो अगर आपने seo नहीं किया है तो.

आप के आर्टिकल पर organic ट्रैफिक आना बहुत ही मुस्किल होता है.Seo में बहुत तरह के Algorithms होता है.maximum जितने हो सके Algorithms को ध्यान में रखते हुये आपनी आर्टिकल में उपयोग करना चाहिए .SEO के दुनिया में 100% कोई भी grantee के साथ नहीं बोल सकता येह Algorithms को implement करने से आप के आर्टिकल Search Engine में टॉप में रैंक करेगा.

यह केबल past experience के हिसाब से Algorithms को नज़र में रखते हुए आर्टिकल लिखना हैं. कभी आर्टिकल search engine में टॉप में रैंक कर जाता है.तो कभी रैंक नहीं हो पाता है. Search Engine Optimisation करने से हमेसा एक चांस रेहेता है .आप के आर्टिकल सर्च engine में रैंक कर सकता है.

Quality Content

हर बक्त हर quality item को सम्मान दिया जाता है.इंटरनेट के दुनिया में भी quality आर्टिकल का सामान
किया जाता है.इसके मतलब जितने quality content का आर्टिकल होगा उतनी ही visitor आप के website में visit करतें रहेंगे .किउं की visitor को आप के website ब्लॉग पर कुछ नया जानने को मिलता है .इसीलिए regularly आप को quality content आर्टिकल को पोस्ट करना चाहिए .

Seo Friendly पोस्ट

Keyword research करने के बाद आप के आर्टिकल को कैसे seo friendly में लिखा जाए .उसके ऊपर आप को ध्यान देना चाहिए .

Post Title

नया bloggers पोस्ट title जब रखे ध्यान रखे पोस्ट title का एक limit words के अंदर रखे .Google search engine  लम्बे पोस्ट title को सर्च करने से दिक्कत आती है .और seo के हिसाब short पोस्ट title रखने से आसानी से गूगल सर्च engine पोस्ट title को read कर के रैंक करवाता है.

Heading

Heading रखने के time हमेसा ध्यान रखना चाहिए Heading को एक limit words के अंदर होना चाहिए .
और जिस particular keyword के साथ साथ main topic के keyword को heading में डाला जाए तो
आसानी से आप के आर्टिकल उस particular keywords के साथ main टॉपिक को भी represent करता है.
इसीलिए आप के आर्टिकल आसानी से Google सर्च engine पर रैंक करेगा .

Article में Image लगाये

हर आर्टिकल में आर्टिकल related फोटो को डाले .इमेज के द्वारा visitor आसानी से उस topic को समज जातें हैं.
इमेज पर Alt Text पर आपने keyword को डाले गूगल सर्च engine पर रैंक करने में इमेज का भी बहुत बड़ा हात रहेता है.

Heading को सही तरीके से उपयोग करे

पोस्ट पर बहुत तरह के heading रेहेता है.उस heading के बारे में जानना बहुत ही जरुरी है.सब से पहेले H1 heading रेहेता है यह पोस्ट के आर्टिकल के heading रेहेता है.H2 heading रेहेता है और H3 sub-heading रेहेता है.

Article Length

Article का length येह बहुत ही जरुरी चीज़ है .आर्टिकल का length कितना होना चाहिए हर नये bloggers के
मन में आता है. देखा जाए तो minimum 300 words के आर्टिकल होना चाहिए . देखा जाए तो एक टॉपिक एक
keyword पर सही तरीके से उसके हर details के साथ लिखना चाहिए.keywords के हर बिंदु पर लेख लिखा जाए तो
2000 से 3000 words हो जाता है.एक visitor अगर सर्च कर आप के आर्टिकल के ऊपर आये तो उस keyword
पर हर तरह की जानकारी आर्टिकल रहेना चाहिये .

उस के साथ साथ उस keyword के related keyword का भी  जान कारी देना चाहिये . अगर visitor को keyword के ऊपर आपनी हर तरह के जान कारी अगर आप के आर्टिकल से मिल जाता है तो visitor आप के website ब्लॉग पर जादा समय तक रहेगा .जिस के द्वारा bounce रेट maintain हो के रेहेता है.

अगर visitor को सही जान कारी आप के website ब्लॉग पर नहीं मिलती तो आप के website ब्लॉग को closed कर के अलग website पर चला जाता है .जिसके द्वारा bounce रेट बड जाता है .जो सर्च engine पर आप के website ब्लॉग पर खराफ प्रभाव पड़ता है.

जिस के द्वारा आप के website ब्लॉग को सर्च engine में रेंक  करना मुस्किल है.visitor को आप के आर्टिकल से सही सही बिट by बिट जान कारी मिलता है .तो visitor ने आप के आर्टिकल को आपने friends circle में share करता है.जो आप के आर्टिकल वायरल होने बहुत ही चांस रेहेता है.

Search Engine Optimisation को दो भागों में बांटा गया है

  1. On-Page Optimisation
  2. Off – Page Optimisation

On-Page Optimisation

आर्टिकल लिख देने से और आर्टिकल को publish कर देने से .website ब्लॉग सर्च engine में रैंक नहीं करेगा .
इसके लिए On-Page Optimisation करना बहुत ही जरुरी है .जैसे की Page title ,post title,keywords ,
meta description,टैग्स,image ,internal links ,external links येह सब Search engine के लिए SEO On-Page Optimisation करना बहुत ही जरुरी है .तब जाके कोई चांस रेहेता है आर्टिकल सर्च engine में रैंक करेगा.

Off – Page Optimisation

यह हमारे website के बाहर का काम है.popular website से backlink कैसे बनाना ,social साईट से ट्रैफिक कैसे  हमारे website पर लाया जाए इसके लिए हम को काम करना पड़ता है.

  • Social Media share करे
  • Facebook में share करे
  • Article को अलग अलग साईट पर submission करे
  • बिभिन्न फोरम में submission करना ऑफ -page seo करना
  • सवाल और जबाब popular website ,social media साईट पर
  • Twitter, Pinterest , Linkedin Reddit , WhatsApp Group share करे

Guest post

आप के website ब्लॉग से related popular website पर गेस्ट पोस्ट करें .उस High PA DA website पे guest post करने से आप को do follow back link मिलता है .जो आप के website ब्लॉग की DA PA को बढाता है.साथ में उस website से आप के website पर ट्रैफिक आयेगा .

Regular Update

Website ब्लॉग पर ट्रैफिक बढाने के लिए आप को regular न्यू पोस्ट को update करना चाहिए .नए नए quality
content लिख कर regular पोस्ट को update करने से google search engine आप के website ब्लॉग को regular crawl करेगा जिसक द्वारा आप के पोस्ट fast index होता रहेगा .जब तक आप के आर्टिकल index नहीं होगा तब तक आप के पोस्ट google search engine में देखाई नहीं देगा .इसीलिए आप को regular website को update करना चाहिए .Organic ट्रैफिक बढाने के लिए आप को regular नए नए पोस्ट को update करे .

SSL certificate उपयोग करे

SSL certificate यह एक secure website का securities का पहेचान है . Google जिस website ब्लॉग पर
SSL certificate नहीं है उस website ब्लॉग को सर्च engine में डाउन कर देता है.अगर कोई user आपने chrome web ब्राउज़र में बिना ssl certificate https website को अगर खोलता है .तो नो secure साईट बलों के
message शो करता है .यानी की येह website ब्लॉग securities कारोनो से secure नहीं है .

यह website ब्लॉग आप के कंप्यूटर ,Laptop ,mobile के ऊपर harmful हो सकता है .इसीलिए website ब्लॉग को ssl certificate से active करना बहुत ही जरुरी है.आप के website ब्लॉग http से https को redirect हो के एक secure website ब्लॉग का मान्यता पाये .इसलिए आप को SSL certificate को active करना जरुरी है.

Reply on Comments

आप के article पर visitors लोगों ने आपने doubts clear करने के लिए आप को question करतें रहेतें है.उन सभी question का answer आप को देना है .आर्टिकल में Comments जादा होने से गूगल को भी पता चलता है
इस आर्टिकल में value एडेड जानकारी है .जिस पोस्ट पर जादा से जादा लोग comments करतें है .Google सर्च engine उस पोस्ट को सर्च engine में रैंक करता है. गूगल को पता चल जाता है इस आर्टिकल में कुछ है .इसीलिए सर्च में इस आर्टिकल को ऊपर रखता है.

Reduce Bounce Rate

Bounce Rate को कम करने के लिए आप को value बाला content बनाना होगा .particular keyword और
उसे related keywords के ऊपर बिट by बिट जानकारी आर्टिकल में देना होगा .अगर कोई visitor आप के website में आता है जिस keyword को लेकर आता है उस keyword के answer मिलजाता है तो visitor आप के साईट पर जादा time तक रेहेता है.जिस के द्वारा आप का website का bounce रेट कम होता है.

Increase CTR

CTR का Full form Click Through Rate है .सर्च engine में आप के पोस्ट दीखाने के बाद कीतेने लोग आप के
आर्टिकल पोस्ट के ऊपर क्लिक करतें है .उसे CTR कहा जाता है.CTR बढाने के सही तरिका आप के पोस्ट में
Post title meta tags बहुत ही आकर्षक होना चाहिए तब जाकर कोई आप के पोस्ट title पर क्लीक करेंगे .

Old post को up-date करे

आप के ओल्ड आर्टिकल में कुछ एसा जानकारी है .जो समय के साथ साथ कुछ नया changes आगेया है .या फिर
कुछ दुसुरा नया जानकारी आया है .उस new changes को ऐड कर के आप आर्टिकल नए update के साथ
present date के साथ पोस्ट को republish करना चाहिए .जिस से आप के पुराने रीडर के साथ साथ नए reader
को पता चलता है कुछ नये update आया है .

आशा करता हूँ Website Blog पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये ? ये सब इसी article में समझने के ये छोटा सा प्रयास किया गया है. अगर आप लोगों ने इसे फॉलो करतें हैं तो कुछ ही दिनों में आप के website ब्लॉग पर आछे ट्रैफिक आने लगेगा .आपने अपना बहुमूल्य समय इस लेख को पढ़ने में दिया इसके लिए आप सब का बहुत बहुत धन्यबाद .आप के मन में इस आर्टिकल बारे में कुछ भी doubts है या फिर article में और कुछ सुधर किया जासकता है. तो कृपया कर के नीचे comment करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here