SEO in Hindi क्या है? Seo के पुरी जानकारी हिंदी में

SEO in Hindi क्या है? आज के समय पर इंटरनेट पर बहुत सारे वेबसाइट बिभिन्न प्रकार के कंटेंट ,विडियो से भरा पडा है.आज इंटरनेट एक एसा माध्यम बन गेया है. जो हर तरह के सवालों का जबाब इंटरनेट पर मह्जुद है.इंटरनेट पर एक सवाल के जवाव के लिए लाखों करोड़ों website उपलध है.

लाखों करोड़ों website से जो सबसे जादा ट्रस्ट worthy website होतें हैं .उन ट्रस्ट worthy website को सर्च इंजन आपनी फ्रंट पेज पर क्रमनुक से लोगों के सामने प्रस्तुत करता है.

लोग आपनी बात आपनी बिचार,आपनी अनुभूती को लोगों के सामने रखने के लिए विडियो के द्वारा ,website के माध्यम से रख पाते हैं.एसे तो बहुत सारे website ,विडियो इंटरनेट में भरा पडा है.आप के वेबसाइट ,आप के विडियो सर्च इंजन के फ्रंट पेज पर आना होगा .

लोग आपनी सवालों का जवाब सर्च engine में ढूंढते हैं.सर्च इंजन के फ्रंट पेज पर जो भी website दीखीई देता है.उस website ,विडियो पर लोग जादातर visitor पसंद करते हैं.

Search इंजन के फ्रंट पेज पर आने के लिए लेख को सही तरीके से SEO के हिसाब लिखना पडेगा .Search engine के Algorithm बहुत tricky होता है.किसीको भी येह मालून नहीं सर्च engine के algorithms क्या है.

Blogger आपने अनुभूती के हिसाब से लेख लीकते हैं.इसमें से एक दो लेख सर्च engine के टॉप पेज पर आता है.अगर आप को कोई भी कहे आप के हर लेख को सर्च engine के टॉप पेज ला सकता हूँ . यह बड़ा सा झूट आप से बोल राहा है.कोई भी आदमी guarantee के साथ यह कह नहीं सकता हर लेख को सर्च इंजन
के टॉप पेज पर ला सकता है.

बड़े बड़े blogger ,बड़े बड़े Seo professional आपनी पिछेले अनुभूती को आधार कर के लेख को SEO के हिसाब से लेख लिखते हैं.जिस से कई लेख सर्च इंजन के टॉप पेज पर आजाता है.एक blogger आपनी website पर जितेने भी आछी quality के content क्यूं ना डाले .

उन आर्टिकल अगर SEO के हिसाब optimized नहीं किया है. तो उस लेख सर्च इंजन के टॉप पेज पर rank कराना बहुत मुस्कील होता है.इसीलिये हर लेख को SEO के हिसाब लिखना जरुरी है.सर्च engine के टॉप पेज पर जिस का भी website ,ब्लॉग rank करता है .उस website,ब्लॉग पर organic visitor बहुत आते हैं.

Organic visitor website पर आने पर earning बड जाता है.बड़े बड़े कंपनी आपनी product को सर्च engine के टॉप पेज पर लाने के लिए बड़े बड़े SEO एक्सपोर्ट लोगों को hier करते हैं.उन कंपनी के product सर्च engine के टॉप पेज पर rank करता है तो उनका earning बड जाता है.

Search Engine के कुछ fundamental rules होते हैं.उन rules को अगर आप follow कर के आपनी लेख को लिखते हैं तो बहुत चांस रेहेता है आप की लेख सर्च इंजन के टॉप पेज पर आसकता है.अगर आप को एक सफल blogger बनना है. तो आप को SEO के ऊपर हर तरह की जानकारी रखना पडेगा .

जो आप को on-page seo ,off पेज SEO कर के आप आपनी website को Google Search Engine के टॉप
पेज पर रैंक कर सकते है.Google Algorithms समय समय पर बदलता रेहेता है.आप को इसके हिसाब से लेख लिखना पडेगा तब जाकर कोई चांस रहेगा आप के लेख सर्च engine के टॉप पेज पर रैंक करवा सकते हैं.

इसीलिए हर blogger को Google Algorithms के साथ चलना पडेगा .Google Algorithms जैसे update होता रेहेता है आप को भी Google Algorithms के हिसाब से आप को ढालना पडेगा .

दुनीया के सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल है.Google Search Engine को बहुत सारे लोग ट्रस्ट करते हैं.गूगल सर्च इंजन को बहुत सारे लोग used करते हैं.Google आपनी user experience को देखते हुए आपनी user को कैसे आसानी से correct information दे सके .

यूजर को आसानी से आपनी मनपसंद content को पा सके.गूगल सर्च engine हर बक्त इसी काम में रेहेता है.SEO क्या होता है?SEO कैसे काम करता है.यह सब जानने केलिए आज हम इस लेख में बिस्तार रूप से चर्चा करेंगे .आप हमारे लेख को पढ़ कर आसानी से यह SEO क्या होता है? हर Blogger SEO के बारे में जानना क्यूं जरुरी है .यह सब इस लेख पर चर्चा करेंगे .

Seo in Hindi क्या है?

यूजर आपनी web-browser में keyword डाल कर इंटरनेट पर सर्च करता है.सर्च इंजन आपनी डाटा बेस से यूजर के द्वारा दिए गये keyword को सर्च कर के related keyword के content को यूजर के सामने fast,correctly ,information को प्रस्तुत कर देता है .

यह content अलग अलग वेबसाइट के होते हैं.Visitor जब कोई वेबसाइट को बार बार visit करता है सर्च engine को पता लग जाता है .उस website पर कुछ खास बात है.उस website पर कुछ valuable content है जो visitor को पसंद आता है .

Seo in Hindi

सर्च engine पर जिस वेबसाइट बार बार टॉप में रैंक करता है . उस website पर जादा visitor आतें हैं.जादा visitor आने से उस website का earning बहुत बड जाता है.यह website जादा popular हो जाता है.सर्च engine पर जो website टॉप पर रेहेता है .

उस website आपनी आर्टिकल को बहुत आछी तरह से SEO करने के कारण सर्च engine में टॉप पर रैंक करते हैं.टॉप पर रैंक करने बाले आर्टिकल पर visitor को आछे valuable content मिलने से लोग बार बार उस आर्टिकल को क्लिक करते हैं.SEO Bloggers के आर्टिकल को सर्च इंजन पर टॉप में रैंक करने की सहायता करता है .

जिसे bloggers की website सर्च engine पर टॉप पेज में रेहेता है.इस से Bloggers को बहुत फायादा मिलता है.Organic visitor website पर आने से bloggers के आछे खासे earning होती है.आपने वेबसाइट पर Organic ट्राफिक लाने के लिए हर blogger को SEO का इस्तिमाल करना चाहिए .

SEO का इस्तिमाल सही तरीके से उपयोग करना हर bloggers की first priority होना जरुरी है.Google Search Engine पुरी इंटरनेट दुनीया में popular Search Engine की मान्यता रखता है.गूगल सर्च engine के एलावा Bing ,Yahoo जैसे और भी सर्च engine इंटरनेट पर महजुद है.

SEO के माध्यम से bloggers आपनी वेबसाइट ,ब्लॉग,विडियो ब्लॉग को इन सर्च engine के टॉप पेज पर ला सकते हैं.इसके लिए SEO का सही तरीके से इस्तिमाल करना चाहिए.

Full Form of SEO

SEO का फुल फॉर्म Search Engine Optimization होता है.

SEO Blog के लिए क्यों जरुरी है?

एक bloggers आपने website को लोगों के सामने रखने के लिए SEO का उपयोग करते हैं.एक bloggers आपनी website पर जितेने भी आछी quality का content क्यों ना लिखी हो .अगर आप के लेख में seo का इस्तिमाल नहीं हुआ है. तो यह कुछ काम का नहीं है.

क्यों की उस लेख इंटरनेट के दुनीया में कहीं गुम हो जाएगा .अगर आप के लेख में SEO आछे तरह से उपयोग नहीं हुआ है तो कुछ फायादा नहीं हैं.SEO नहीं होने के कारण आप के website लोगो के सामने पहंच नहीं पायेगा जिस से आप का उद्देश्य पूरा नहीं हो पायेगा .

जब कोई यूजर कोई keyword को इंटरनेट पर सर्च करेगा तो आप के website यही keyword related कोई लेख होने पर भी यूजर आप के website को एक्सेस कर नहीं पायेगा .क्यूंकि सर्च engine आप के website के लेख को ढूंढ नहीं पायेगा ना ही आप के लेख को सर्च engine अपनी डाटा बेस में यह वेबसाइट को स्टोर कर पायेगा .इसीलिए SEO करना बहुत ही जरुरी है.

Search Engine कैसे काम करता है?

अगर कोई यूजर कोई keyword को इंटरनेट पर सर्च करता है .सर्च engine आपनी डाटा बेस से crawl और index की हुई रैंक लिस्ट को आप के सामने प्रस्तुत कर देता है.सर्च engine आपनी बोट्स और स्पाइडर 24 घंटे लगातार crawl और इंडेक्सिंग करके एक रैंकिंग लिस्ट तेयार करता है .

कोई user जब कीई keyword सर्च करता है तब सर्च engine आपनी डाटा बेस से यही keyword related content को सर्च इंजन रिजल्ट पेज को user के सामने रख देता है.

Types ऑफ़ SEO

SEO दो प्रकार के है.पहेला On Page SEO और दुसुरा Off Page SEO होता है.

  • On Page SEO
  • Off Page SEO

On Page SEO

आपनी website को सर्च engine के हिसाब से website को optimize करना पड़ता है.इसके लिए आप को सर्च engine के rules को आछी तरह से follow करना पड़ता है.आप को आपनी website के एक लाइट weight them ,template को choose करना पडेगा .

आप को आछे quality के content और आछे keyword research कर के आछे keyword को आपनी content पर इस्तिमाल करना पड़ता है.आप को आछे attractive title ,meta description लिखना होगा.आप के वेबसाइट नया है इसलिए आप को जादा volume और low competition keyword के ऊपर जादा ध्यान देना चाहिए .

इससे आप के website गूगल पर जल्दी रैंक हो पायेगा .आप के website गूगल के सर्च engine पर आछा
रैंक करेगा जिस से ट्रैफिक आप के website आने लगेगा .

On Page SEO कैसे करते हैं?

आज हम इस लेख पर चर्चा करेंगे on पेज SEO कैसे किया जाता है.गूगल सर्च engine पर आपनी website को रैंक करने के लिए सर्च engine के बहुत से factor के ऊपर निर्भर करता है.जितेने हो सके आप को उन सभी माप डाँडो पर खड़े उतरने की कोशिश करना चाहिए .इस से आप के website जल्दी गूगल सर्च पर रैंक कर सकेगा .

  • Website Design
  • Website Speed
  • Mobile-friendly Website
  • Title Tag
  • Meta Description
  • Keyword Density
  • Image Alt Tag
  • URL Structure
  • Internal Links
  • Highlight Important Keyword
  • Use Heading Tag
  • Article Good Length
  • SEO Friendly URL
  • Social Media Button
  • Website security HTTPS
  • Engagement
  • Shorter paragraphs
  • Bullet points

Website Design

आप के website them template लाइट weight responsive होना चाहिए .मोबाइल version और desktop version पर भी आछी तरह से दीखाई देना चाहिए .हर प्लेटफार्म पर आप के website आसानी से adjust होकर आसानी से user को दीखाई देना चाहिए .इसीलिये आप को एक लाइट weight them और responsive them को choose करे .

Website Speed

आज के समय पर गूगल सर्च engine जिस website का स्पीड जादा रेहेता उस website को गूगल सर्च engine आपनी सर्च engine पेज पर user को शो करता है.आप आपनी website बहुत सिंपल और attractive them का उपयोग करे .आप अपनी website पर जादा plugin का इस्तिमाल ना करे .जादा plugin का इस्तिमाल करने से वेबसाइट का स्पीड कम हो जाता है.जो गूगल सर्च engine पसंद नहीं करता .

Mobile-friendly Website

आज के समय पर जादातर लोग मोबाइल का उपयोग करते हैं.इसीलिए आप के वेबसाइट मोबाइल फ्रेंडली होना जरुरी है.

Title Tag

आप के website के title टैग आछा होना चाहिए .जिस से user आप की title टैग को पढ़े और उसे क्लिक कर के आप के website पर आये .इसे आप के CTR भी increase होता है.जिस आप को सर्च engine से आप को फायादा मिलता है.

Meta Description

आपनी website पर meta description को आछे तरह लिखी .इस से सर्च engine को आप के website पर content क्या है .किस के ऊपर लिखा गेया है किस keyword को आप के website represent करता है यह सब सर्च engine पता लगाने में आसानी होता है .जिस से आप के website को सर्च engine रैंक कराने में सहायता करता है.

Keyword Density

आप जिस keyword के ऊपर लेख लीकते हैं .उस keyword को एक limit के भीतर उपयोग करना चाहिए .जादा करने सर्च engine उसे spam के हिसाब से लेता है .जिस से आप के website को गूगल सर्च engine डाउन कर देता है.

Image Alt Tag

आपने वेबसाइट पर image का उपयोग जरुर करे .उस इमेज को आप के keyword से टैग करे .जिस से सर्च engine को पता लगता है उस particular keyword के ऊपर एक इमेज है जो पोस्ट को रैंक कराने में इमेज सहायता करता है.

URL Structure

आप के पोस्ट के URL जादा लंबा नहीं होना चाहिए .आप को एक limit के भीतर URL को सेट करना पडेगा .जिस से सर्च engine को आसानी से पता लगता है पोस्ट के content कौन सा है इसी हिसाब से सर्च engine पोस्ट को रैंक करता है.

Internal Links

आप के website पर बहुत सारे content होगा .उस content को एक दुसुरे से links करे .जिस से सर्च engine को आप के पोस्ट को रैंक कराने में सहायता करता है.

Highlight Important Keyword

आप के लेख के भीतर जो important keyword होगा उस keyword को आछे तरह से हाईलाइट करे जो visitor को आसानी से देख सके और सर्च engine को भी read करने में आसानी हो सके .जिस से सर्च engine आप के वेबसाइट को रैंक करता है.

Use Heading Tag

आपनी पोस्ट के heading को आछे तरह से लेखे यह सब से बड़ी महत्वपूर्ण चीज़ है .जिस से सर्च engine को काफी प्रभाबीत करता है.आप आपकी पोस्ट H1 ,H2 ,H3 को आछे तरह से heading ,sub heading के हिसाब रखे .Heading ,sub-heading जिस से सर्च engine को आप के पोस्ट के related heading को आसानीसे read कर सके और रैंक करने में सहायाता कर सके.

Article Good Length

आप आपने content एक आछे length रखे visitor को जादा से जादा information देने की कोशिश करे .जिस से आप के content का length भी बढेगा और visitor के keyword related information भी उसे जादा मिल पायेगा .जिस से visitor आप के website को बार बार visit करता रहेगा .

SEO Friendly URL

आप हमेश SEO फ्रेंडली URL create करे .जिस से आप के पोस्ट को आसानी से गूगल सर्च engine रीड कर के रैंक करने में सहायता कर सके

Social Media Button

आप आपनी website पर Social Media Button का उपयोग करे .जिस से आप के visitor को अगर आप के content पसंद आता है. उसे कुछ valuable information आप के पोस्ट पर मिलता है. Visitor आपनी social media प्लेटफार्म share करता है .जिस से आप के पोस्ट बहुत आसानी से बहुत सारे लोगों के पास पहंच सकता है.इसीलिये आप को Social Media Button website पर होना चाहिए.

Website security HTTPS

आप आपनी website को SSL certificate का उपयोग कर के आप आपनी visitor को security दे .आप आपनी website को HTTPS द्वारा secure करना चाहिए बिना HTTPS के website को सर्च engine promote नहीं करता.इसीलिए आप हर हाल में आप को आपनी website को secure करना चाहिए.

Engagement

गूगल आज कल आपनी सर्च engine पर उपयोगकर्ता के अनुभव के मीट्रिक के ऊपर जादा ध्यान देता है.आप आपनी visitor प्रभाबीत कर सकते हैं सवालों का जवाव को जो खोजकर्ता पूछ रहें उन सवालों का जवाव सही हो सठीक हो ताकी visitor आप के पेज पर जादा समय तक रहे सके .

आप को येह ध्यान रखना चाहिए जब visitor आप के पेज पर आये पेज जल्दी से जल्दी लोड हो सके उस पर जादा ads नहीं होना चाहिए जिस से visitor को आप के पेज को बंध कर के और कहीं जाना पड़े .यह सब बात को एक blogger ध्यान देना चाहिए .ताकी visitor जादातर समय आप के पेज पर बने रहे .

Shorter paragraphs

आप आपनी लेख पर पैराग्राफ को छोटा रखना चाहिए .3 से 4 बाक्यों तक सीमित करना चाहिए.आप के पाराग्राफ संबंधीत ब्याक्यों का एक समूह होता है .जो मुख्य बिचार को दर्शाता है. अगर आप एक पाराग्राफ को बिभाजन कर देतें हैं तो आप का बिचार खंडीत हो जाता है और आप का मुख्य बिंदु खो जाता है .इसीलिये आप को पाराग्राफ को छोटा रखना चाहिए .

Bullet points

जब आप के पास बहुत जादा लेख ,डेटा होता है -आँकड़े, तथ्य, विचार तो आप बुलेट पॉइंट्स से उन्हें सूचीबद्ध कर के visitor को समझाने के एक छोटा सा प्रयास करते है तो इन बुलेट पॉइंट्स को पढ़ना visitor के लिए आसान हो जाता है.अगर आप 4 से 5 आइटम्स को सूचीबद्ध कर रहें तो बुलेट पॉइंट का उपयोग करे .यह सर्च engine को जादा प्रभाबीत करता है.उस से आप का website गूगल सर्च engine पर टॉप में रैंक करने में सहायता करता है.

Off Page SEO

Off Page SEO में ब्लॉग के अन्दर कुछ करना नहीं पड़ता .ब्लॉग के बाहार आप को काम करना पड़ता है.आप को website के लिए back-links ,social प्लेटफार्म पर आपनी website को promote करना पड़ता है.सर्च engine के बाहार से आप के website को ट्रैफिक मिलता है .

सर्च engine के बाहार से आप के website को ट्राफिक मिलने से सर्च engine को भी आप के website को रैंक करने के लिए सहायता करता है.यह Off Page SEO कैसे किया जाता आज हम इस लेख पर चर्चा करेंगे .

Social Networking Platform

आप को social नेटवर्किंग प्लेटफार्म पर आप के website को sharing करना पड़ता है .Facebook,Facebook के फेन पेज ,twitter ,face ग्रुप एसे सारे social नेटवर्किंग साईट का लाव आप को आपने website के लिए उठाना चाहिए .इन social प्लेटफार्म पर आप आपनी website को share करना चाहिए .जिसे इन social प्लात्फ्रोम से भी ट्राफिक आप के website पर आसके .यह Google सर्च engine रैंक करने में एक factor रेहेता है.

आप आपनी website के लिए बहुत सारे जगह पर off page SEO करना पड़ता है.इंटरनेट में एसे बहुत सारे साईट है जो आप आपनी website के लिए ऑफ पेज seo करना चाहिए .एसे बहुत सारे साईट जैसे की ,Tumblr ,Pinterest ,Reddit ,Linkedin इत्यादी साईट पर आपनी website को share करना चाहिए .

Guest Posting

आप आपनी website के ऑफ पेज seo के लिए बहुत सारे साईट पर guest posting कर के आप आपनी website पर ट्राफिक ला सकते हैं.जिसे गूगल सर्च engine को आप के website को रैंक करने में सहायता मिलता है.

ATM Full Form क्या है? एटीएम से पैसे कैसे निकाले हिंदी में जानकारी

Bharat में कितने राज्य हैं ?-2020 भारत के राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों की संख्या

Blog Commenting

आप बहुत सारे website पर जाकर Blog Commenting कर के आप आपनी website के ऑफ पेज seo कर सकते हैं.

Blog Directory Submission

इंटरनेट पर बहुत सारे एसे website है जाहाँ पर आप आपनी website को सबमिट कर सकते हैं .जिस से आप के website ट्राफिक मिलता है.

Question and Answering Site

इंटरनेट पर बहुत सारे question & answer साईट है .यह भी आप आपनी website के लिए ऑफ पेज seo कर सकते हैं.इन साईट पर आप जाकर लोगों के द्वारा पूछे गये सवाल को जवाव दे कर आपनी website पर ट्राफिक ड्राइव कर सकते हैं.

और भी पढ़े

UPI Full Form क्या है? यूपीआई की पुरी जानकारी हिंदी में

27 Best Small Business Ideas in Hindi में पुरी जानकारी

आशा करता हूँ SEO in Hindi क्या है? Seo के पुरी जानकारी हिंदी में. यह सब इसी article में समझाने
के ये छोटा सा प्रयास किया गया है. आपने अपना बहुमूल्य समय इस लेख को पढ़ने में दिया इसके लिए आप सब का बहुत बहुत धन्यबाद .आप के मन में इस आर्टिकल बारे में कुछ भी doubts है या फिर article में और कुछ सुधर किया जा सकता है.

तो कृपया कर के नीचे comment करे. अगर आप को SEO in Hindi क्या है? इस लेख को पसंद आया या
फीर हमारे लेख से कुछ सिखने को मिला तो तब कृपया कर के हमारे लेख को आप के फ्रेंड circle social नेटवर्क साईट पर आपने फ्रेंड्स के साथ Facebook ,Twitter ,Pintrest Social media साईट पर share कर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here